WHAT IS CCC COMPUTER COURSE? सीसीसी कंप्‍यूटर कोर्स क्‍या है?

CCC की FULL FORM है कोर्स ऑन कंप्यूटर कांसेप्ट (COURSE ON COMPUTER CONCEPT) सरकारी नौकरी के लिए निएलिट (NIELIT) ने CCC के सर्टिफिकेट जरूरी कर दिए है.ऐसे म बहुत से लोग कंप्यूटर सीखना चाहते है. और CCC कोर्स करना चाहते है तो आइये अब हम आपको बताते है कि सीसीसी (CCC) कोर्स क्‍या है?

What is CCC Computer Course?

सोसाइटी का कंप्यूटर साक्षरता कार्यक्रम सूचना प्रौद्योगिकी और सॉफ्टवेयर विकास पर राष्ट्रीय कार्य बल की सिफारिश का एक परिणाम है। इस कोर्स को आम आदमी के लिए एक बुनियादी स्तर के आईटी साक्षरता कार्यक्रम प्रदान करने के उद्देश्य से डिजाइन किया गया है जिसे नाइलिट(NIELIT) के नाम से भी जाना जाता है इस कोर्स को आम आदमी के लिए एक बुनियादी स्तर के आईटी साक्षरता कार्यक्रम प्रदान करने के उद्देश्य से डिजाइन किया गया है।

इस कार्यक्रम को अनिवार्य रूप से कंप्यूटर साक्षरता प्राप्त करने के लिए आम आदमी को अवसर प्रदान करने के विचार के साथ कल्पना की गई है जिससे जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में तेजी से और तेजी से पीसी प्रवेश में योगदान दिया जा सके। पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद अभ्यर्थी अपने व्यक्तिगत / व्यावसायिक पत्र तैयार करने, इंटरनेट (वेब) पर जानकारी देखने, मेल प्राप्त करने और भेजने, अपने व्यापार प्रस्तुतियों की तैयारी, छोटे डेटाबेस तैयार करने आदि के मूल उद्देश्यों के लिए कंप्यूटर का उपयोग करने में सक्षम होना चाहिए। यह छोटे व्यवसाय समुदायों, गृहिणियों आदि को कंप्यूटर का उपयोग करके अपने छोटे खातों को बनाए रखने और सूचना प्रौद्योगिकी की दुनिया में आनंद लेने में मदद करता है।

इसलिए यह कोर्स अधिक व्यावहारिक उन्मुख होने के लिए डिज़ाइन किया गया|  NIELIT के द्वारा सीसीसी परीक्षा और बीसीसी परीक्षा पूरे वर्ष हर माह आयोजित कराई जाती है, सीसीसी को कम्प्यूटर अवधारणा पाठ्यक्रम और बीसीसी को मूलभूत कम्प्यूटर पाठ्यक्रम कहा जाता है, NIELIT से पहले सीसीसी कोर्स और बीसीसी कोर्स DOEACC द्वारा करायेे जाते थेे लेकिन अब सीसीसी कोर्स नाइलिट द्वारा आयो‍जित कराये जाते हैं सीसीसी कोर्स को करने से आपको Computer की बेसिक जानकारी हो जायेगी जो किसी भी सरकारी और प्राइवेट नौकरी के लिये जरूरी होती हैWhat is CCC Computer Course..?

NOTES:-

निम्नलिखित राज्यों ने राज्य सरकार के अलग अलग विभागों में भर्ती कराया और इसकी वजह से सीसीसी (CCC) के सिलेबस (SYLLABUS) को निम्न राज्यों में मानयता प्राप्त की है

  • गुजरात
  • महाराष्ट्र
  • उत्तर प्रदेश
  • अरुणाचल प्रदेश

 सीसीसी कोर्स करने का तरीका |

CCC कोर्स को आप 2 तरह से कर सकते है पहला direct और दूसरा instituteके ज़रिये |

पहला तरीका यह है की आप खुद तैयारी करे और अपने घर पर ही ऑनलाइन परीक्षा दे सकते है CCC कोर्स एग्जाम के लिए आपको सीसीसी कोर्स ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन(ONLINE REGISTRATION ) कराना होगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने क्रे लिए आपको सीसीसी की वेबसाइट student.nielit.gov.in पर जाना होगा और यह परीक्षा हर माह के प्रथम शनिवार को आयोजित कराई जाती है परीक्षा देने के बाद आप अपना रिजल्ट डाउनलोड करने के लिए student.nielit.gov.in पर जा सकते है और इसके साथ ही आपको सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा जिसे डाउनलोड करने के लिए स्टूडेंट http://www.nielit.gov.in/certificate/  पर जा सकते हैं और ये सरकारी और प्राइवेट जॉब के लिए आवश्यक है

और दूसरा यह है instituteके ज़रिये इसमें आपको अपने घर के पास ही किसी INSTITUTE पर सीसीसी (CCC) कोर्स join करना होता है और ऐसे में सीसीसी एग्जाम FORM FILL करना, एडमिट कार्ड डाउनलोड करना और CCC की तैयारी कराने की ज़िम्मेदारी इंस्टिट्यूट की होती है ऐसे संस्थानों द्वारा जिन्हें सीसीसी पाठ्यक्रम चलाने के लिए नाइलिट(NIELIT) द्वारा विशेष रूप से प्राधिकृत किया गया है। इस संस्थानों द्वारा CCC परीक्षा का आयोजन नाइलिट (NIELIT) (पूर्व में डीओईएसीसी सोसायटी) द्वारा निर्धारित कैलेण्डर के अनुसार किया जाता है, यह परीक्षा हर माह के प्रथम शनिवार को इन संस्थानों पर आयोजित कराई जाती है

  • परीक्षा फीस –360/- रु. (340/- रु. परीक्षा फीस + 20/- प्रकिया प्रभार)
  • परीक्षा समय –हर माह के प्रथम शनिवार को आयोजित होती है
  • परीक्षा स्‍थल –नाइलिट द्वारा विशेष रूप से प्राधिकृत स्थानों द्वारा
  • कोर्स की अवधि– 80 घंटे

CCC Exam Schedule 2018 – 2019

 

सीसीसी कोर्स करने के फायदे

आइये अब हम आपको बताते है की CCC कोर्स के किया किया फायदे है यानि ये जो कोर्स है वो कंप्यूटर कांसेप्ट है आज के दौर में इनफार्मेशन एंड टेक्नोलॉजी(INFORMATON AND TECHNOLOGY) के बढ़ती मांग को देखते हुए कंप्यूटर प्रोफेशनल (PROFESSIONAL) की ज़रूरत बन गयी है इस फील्ड को प्रोफेशन बनाने की तैयारी है इस कोर्स का मकसद है आम आदमी को कंप्यूटर सीखाना और इस कोर्स को करने के बाद आम आदमी कंप्यूटर चलाना सिख जाये जिससे वो अपना पर्सनल इस्तेमाल कर सकेगा और इंटरनेट की नॉलेज बी हो जाएगी जिसकी वजह से वो ईमेल (E-MAIL) भेजना और रीसीव करना सिख जाएगा यानि सीसीसी कोर्स को पूरा करने के बाद बेसिक कंप्यूटर चलाना सिख जाएगा|

सीसीसी कोर्स करने के बहुत फायदे है कोर्स पुरा करने के बाद आपको इसका सर्टिफिकेट मिलता है और कंप्यूटर की बेसिक नॉलेज मिल जाती है इसके साथ ही इंटरनेट यूज़ करना भी सिख जाते है आम तोर पर देखा जाये जाये तो इसके बहुत फायदे है जिन्हे हम अपनी डेली लाइफ में भी यूज़ कर सकते है

सीसीसी कोर्स करने के लिए कितना समय दिया जाएगा

कोर्स करने के लिए आपको 80 घंटे दिए जाएगे जिसमे 25 घंटे थ्योरी (THEORY) के लिए और 50 घंटे प्रैक्टिकल (PRACTICAL) के लिए और 5 घंटे टुटोरिअल (TUTORIAL) के लिए दिए जाएगे और सीसीसी कोर्स एग्जाम की फीस रु 500 है

सीसीसी कोर्स सिलेबस क्या है
  • Introduction to computer(कम्प्यूटर का परिचय)
  • Introduction to GUI operating system(जीयूआई आधारित ऑपरेटिंग सिस्‍टम परिचय)
  • Microsoft office word (माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस वर्ड)
  • Microsoft excel(माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल)
  • Microsoft office power point
  • Computer communication and internet(कंप्यूटर संचार और इंटरनेट)
  • Basic finance terms(मूल वित्त शर्तें)

CCC Exam Syllabus 2019

TAG:-  Course on Computer Concepts, ccc computer course exam paper ,ccc course in hindi, ccc course syllabus, ccc course details, ccc certificate course syllabus, ccc course duration, ccc course exam fees online, course on computer concept book pdf, course on computer concepts syllabus, ccc course benefits in hindi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *